Tuesday, 1 August 2017

एक रास्ता



एक रास्ता बेहद्द हरा भरा है
एक चुबते पथरों को ले खड़ा है

एक रास्ते में खुशबूदार फूल खिले है
एक की मिट्टी में चुबते काँटें जा मिले है

एक रास्ता मेरी चाही मंज़िल को जा मिलता है
एक मेरे घर की देहलीज़ लांघ निकलता है

एक रास्ते में मेरी ख्वाइशों का फैलाव है
एक में दुनिया के तीखे तानों का सेलाब है

एक रास्ता मेरे अपनों को पहचानता है
एक मेरे सपनो को भगवान् से ज्यादा मानता है

घबराया नहीं हूँ में अपने चाहे रास्ते की तलाश में
बिन रोके चलने दो मुझे मेरे रास्ते की आस में


No comments:

Post a Comment